السلام علیکم

ज़िन्दगी में अक्सर कुछ गलतियां जाने अनजाने में हम इंसानो से ऐसी हो जाती है जिन गलतियों के सुधार के लिए रास्ते नज़र नही आते और कई मुसीबतें भी बिन बुलाए मेहमानों की तरह हमारी ज़िन्दगी में आ खड़ी हो जाती है फिर न आप किसी से उसका ज़िक्र कर पाते हो न हल निकाल पाते हो ऐसी परेशानियों में अगर हो आप मुब्तला तो बेफ़िक्र हो जाइए हम आप के साथ आप की परेशानियों का मिलकर मुक़ाबला करेंगे। बस आप हम से अपनी उलझने शेयर कीजिए हम उसे सुलझाने की कोशिशें करेंगे!

मशवरे में खैर हैं इंशाअल्लाह हमारी राय से हल निकलेगा और आप का दिल भी हल्का होगा!



मशवरा:service essay how it changed you outlook

2023-01-23 10:51:02

service learning essay examples essay in history essay customer service


Ask a question.

मशवरा : боян more info about

मशवरा : Это действительно удивляет. --- Перефразируйте пожалуйста свое....

मशवरा : Да, действительно. Так бывает. Можем пообщаться на эту тему. from all ....

मशवरा : But treatments for breast cancer have come a long way for both men and women nolvadex pct ....